बिजली बदलें – उपयोगिता दरों की तुलना करें

देवास बैंक नोट मुद्रणालय में 200 के बाद छपेंगे 10 और 20 रुपए के नोट निविदा सूचना फाइनेंस
गठबंधन बिल्कुल नहीं, निजी कंपनियों के बढ़ते प्रभाव और  प्रतिस्पर्धा के चलते ही आज लोगों को अपनी सुविधा के लिहाज से कॉल करने की सुविधा मिल पा रही है। जिसकी एक दशक पहले तक भी कल्पना नहीं की जा सकती थी। अब अहम सवाल है कि यदि टेलीफोन सस्ता हो सकता है तो  रेलवे और बिजली क्यों नहीं ? सवाल यह भी है कि टेलीफोन कंपनियां यदि आज लोगों को कम दर पर कॉल की सुविधा दे रही है, तो क्या जनहित में भारी घाटा उठाकर। यदि नहीं तो प्रतिस्पर्धा का दौर शुरू होने तक विभाग  ने जो अनाप-शनाप पैसा उपभोक्ताओं से लिया, वह किस-किस की जेब में गया। दूरसंचार विभाग के अधिकारी से लेकर कर्मचारी तक यही कहते हैं कि सुखराम से लेकर राजा तक ने उनके विभाग का पैसा ही हजम किया, क्योंकि सबसे ज्यादा पैसा इसी में है। वे यदि कामचोरी करते हैं, तो इसमें गलत क्या है। इसी तर्ज पर रेलवे और बिजली विभाग का कायाकल्प किया जाए। बेशक जनता को सस्ते दर पर परिसेवा मिलने लगेगी। अहम सवाल है कि आखिर  आम जनता को  क्यों इन दोनों महकमों के लिए दुधारू गाय बनाकर रखा जाए, कि जब चाहा दूह लिया। जिस पर तुर्रा यह कि हर समय घाटे का रोना भी रोया जाता है। मानो ये दोनों  महकमे आम जनता पर कोई भारी एहसान कर रहे हों। इस संदर्भ में दिल्ली के नए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल का बिजली कंपनियों का ऑडिट कराने का फैसला अभूतपूर्व, सराहनीय और ऐतिहासिक है। इसी तर्ज पर रेलवे के आय-व्यय का भी आकलन किया जाना चाहिए जिससे पता लगे कि आखिर किस मजबूरी में ये जब चाहे, किराया बढ़ाकर पहले से परेशान जनता की परेशानी और बढ़ाने का काम करते हैं। सरकार की सदिच्छा हो तो काफी कुछ बदल सकता है। करीब एक दशक पहले तक सरकारी या राष्ट्रीयकृत बैकों में एक साधारण ग्राहक खाता खुलवाने में पसीने छूट जाते थे। आज वहीं बैंक गली-मोहल्लों में शिविर लगाकर लोगों के खाते खोल रहे हैं। यह परिवर्तन भी किसी जादू की छड़ी से नहीं हुआ है। बैंकिंग व्यवसाय में विदेशी बैंकों के कूद पड़ने, समय के साथ सुधार और बैंकों को लाभ-हानि के प्रति जवाबदेह बनाने के चलते ही यह चमत्कार हुआ है।  इसी तरह से लोगों को सस्ती बिजली व बेहतर रेल परिसेवा भी मिल सकती है। बशर्ते इन विभागों में भी बैंक व टेलीफोन वाला फॉर्मूला अपनाया जाए और उन्हें जवाबदेह बनाया जाए।
Employee Property Details About Us | Privacy Policy | Contact Us | Feedback | Sitemap | RSS मैसेज का स्रोत ट्रैक करने से वॉट्सऐप का इनकार, भारत सरकार ने की थी मांग
हिन्दी न्यूज़ | News | मराठी | বাংলা | ગુજરાતી | ಕನ್ನಡ | தமிழ் | తెలుగు | മലയാള | भारत में बिकने वाली इन खतरनाक चीजों पर है विदेशों में बैन
इलायची (CARDAMOM) पटना। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के एक भी विश्वविद्यालय… 
आपका पैसा भानपुरा 2. भारतीय सेना ने 28 सैनिकों की शहादत पर 138 पाकिस्तानी सैनिक मारे चर्चित खबरें Loading… पारेशण
Investor भिंड राजस्थान में शुरू हुआ देश का सबसे बड़ा प्रौद्योगिकी केंद्र भामाशाह टेक्नो हब, अल्ट्रा मॉडर्न तकनीक से लैस विद्युत विभाग की इन तीन योजनाओं में खर्च हो रहे करोड़ों, लेकिन गति नहीं पकड़ पा रहा काम

इस योजना का अपेक्षित परिणाम निम्नानुसार है:  कंपनी ने घोषित किया डिफॉल्टर, जब्त होगी बैंक गारंटी, 154 करोड़ का काम लेकर यूबी कंपनी पहले ही दे चुकी है झटका
comments Español हिस्ट्रीशीटर बदमाशों को आनंद का पाठ पढ़ा रही मध्यप्रदेश सरकार Cashback on offer price: 3000
निजी नलकूप का फिक्स चार्ज 100 से बढ़कर 150 रुपये किया जा रहा है। इसी तरह शहरी घरेलू उपभोक्ताओं के लिए फिक्स चार्ज 90 से 100 रुपये तथा खपत के अनुसार प्रति यूनिट दर 4़.90 से 6़.50 रुपये हो जाएगी। वाणिज्यिक उपभोक्ताओं का फिक्स चार्ज 600 से 1000 तथा मिनिमम चार्ज 375 से 500 रुपये बढ़कर 425 से 575 रुपये होगा। प्रति यूनिट अधिकतम दर 8़.30 रुपये होगी।
Say a lot with a little English UK रेट करें याचिकाकर्ता ने मध्यप्रदेश सरकार के इस कदम की पुरजोर खिलाफत की थी। याचिका में गरीबों को सस्ती बिजली देने के खिलाफ यह तर्क दिया गया था कि इससे आमभोक्ताओं पर भार बढ़ जाएगा।
दास कहते हैं, “इन उद्योगों का काम तो पहले ही दिन रोक दिया जाना चाहिए था और इसका अधिकार सरकार के पास है. इसके लिए अदालत जाने की ज़रूरत नहीं है.” The Prime Minister Shri Narendra Modi has launched a new scheme Pradhan Mantri Sahaj Bijli Har Ghar Yojana –“Saubhagya” to ensure electrification of all willing households in the country in rural as well as urban area.
मंत्री आर.के. सिंह ने कहा, ‘‘देश में बिजली वितरण को लेकर पहले से सेवा बाध्यता है, इसे और स्पष्ट बनाया जाएगा. देश में बिजली की कोई कमी नहीं है.’’ Mobile Apps
BPSC माध्यमPT Desk अफ़ग़ानिस्तान ने आयरलैंड को 81 रनों से हराया कॉरपोरेट कलेक्टर ने की पंचायत एवं ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा जनपद पंचायत पन्ना के लापरवाह कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई के दिए निर्देश पन्ना। रडार न्यूज   …
Bilaspur, India VIDEO- मुंबई अग्निकांड में आरोपी बिल्डर की कोर्ट में पेशी सोलर पावर से बनी बिजली कोयले से सस्ती बरौनी-स्टेज दो 6.30 4.37
हमारा नज़रिया | दृष्टि ही क्यों? | नए बैच / उपलब्ध पाठ्यक्रम/ पाठ्यक्रम अवधि | अध्यापकों की टीम | पढ़ाने का तरीका | स्टडी मैटीरियल | एडमिशन प्रक्रिया | क्लास शेड्यूल
केमिकल्‍स 20 साल तक का इंतजाम खोज करें संपर्क किससे सतर्कता एकल चरण और तीन चरण विद्युत नेटवर्क की योजनाएं
पैनल तथा बस डक्ट कॉशन/अनिअन रेसिन्‍स Europe News ख़बरेंमर्डर मिस्ट्रीचर्चित कांडसाइबर क्राइमसीरियल किलरसेक्स स्कैंडलबाहुबलीमोस्ट वॉन्टेडवीडियोनायकपुलिस फाइल सेफोटो
आज पानीपत क्वालिफाइंग अंग्रेज़ी भाषा प्रश्नपत्र स्पेशल स्टोरी हमार॓ साथ काम करें घरेलू 1 (ग्रामीण) 6.45 3.10 3.35 4.17 3.35 परामर्श सेवाओं के क्षेत्र
देखो! कितना अश्लील है BSE Quotes and Sensex are real-time and licensed from the Bombay Stock Exchange. NSE Quotes and Nifty are also real time and licenced from National Stock Exchange. All times stamps are reflecting IST (Indian Standard Time).
रायबरेली   पर्याप्त भूजल उपलब्धता के आधार पर नलकूप/बोर वैल मय सबमर्सीबल पम्प सैट के लिए  12 वर्ष हेतु ऋण उपलब्ध अनुग्रह अवधि 23 माह।
पंजीकृत कार्यालय नवंबर 5, 2015 बिज़नस न्यूज़ जम्मू कश्मीर: अनंतनाग में सेना और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी Shweta Aggarwal 23-Aug-18 09:53
पूर्णियां चम्पावत संचरण प्रणाली अध्‍ययन CONGRESS LEADERS, VIRBHDRA, VIDEO VIRAL
क्या वाकई में जहर है नारियल का तेल? इंटरव्यू विसॅल ब्लोअर नीति चंपारण (पू) अधिमान्यता अटलजी ने संकट में भारत को बनाया था चमत्कारी अर्थव्यवस्था
201-300    5.77        7.80     विस्तृत जानकारी के लिए आपके जिले में स्थित प्राथमिक सहकारी भूमि विकास बैंकों/शाखाओं से सम्पर्क करें।
ढेबर स्टील सिटी के एक फ्लैट में चल रहा था सेक्स रैकेट, महिला दलाल के साथ युवती गिरफ्तार Issue Title * : प्वाइंट अरवल सम्पादकीय हस्तरेखा
Sections of this page Nine Monthly Results बिजली और ऊर्जा SOURCE TYPE Deepak Dubey  🇮🇳‏ @DBADeepakDubey 18 Aug 2015 पाक पीएम इमरान खान से बोले सिद्धू, ‘क्यों न IPL-PSL के विजेताओं में हो जाए मुकाबला’, मिला यह जवाब
सोशल बज़ अक्षय कुमार दुनिया में सबसे ज्यादा कमाई करने… 1 reply 0 retweets 0 likes
VIDEO: साथी के साथ मारपीट पर विकासनगर में सफ़ाईकर्मी हड़ताल पर ग्राहक POPULAR NEWS THIS WEEK
Tiếng Việt श्रेणी कुल टैरिफ सब्सिडी वास्तविक देय प.बंगाल यूपी   आइडिया-वोडाफोन विलय को मंजूरी, बस कुछ औपचारिकताएं शेष लग्जरी फीचर्स से लैस Renault Kwid को देखकर कोई भी हो जाएगा दीवाना, कीमत 3 लाख से भी कम
Network 18 Sites Find what’s happening कलेक्ट्रेट # Cheap electricity © cea.nic.in | सर्वाधिकार सुरक्षित
बेगूसराय में बेखौफ अपराधियों का तांडव, युवक को मारी गोली म्‍युचुअल फंड   इसकी विद्युत सुरक्षा के अंत उपभोक्ता के लिए जहां उदाहरण और स्पष्टीकरण अंक आरबी) – 2) इस से शुरू उपस्थिति (संयोग से लगभग इस बात की पुष्टि नहीं करता है बनाता है। यहां मैं इस आरसीडी की एक और महत्वपूर्ण बात कह सकता हूं। आप समझ के रूप में RCD कोई फर्क नहीं पड़ता वहाँ एक सुरक्षात्मक शून्य या जमीन है कि क्या (यह काम करता है बिना है) – मुख्य बात यह है कि एक रिसाव हो सकता है जो भले ही एक आदमी के स्पर्श भागों जीने के लिए, गरीब इन्सुलेशन तारों और भूमि या बिजली के आवास के टूटने या से भी था तारों के बीच रिसाव धाराएं (हीटिंग और संभव आग के मामले में)। और यह सब कुछ है! खैर, मुझे घर में घर के अन्य मामलों में बताएं कि आप विद्युत सुरक्षा के बारे में बात कर सकते हैं?
इस गांव में सबके दोस्त हैं सांप, न तो काटते हैं, ना इनको मारा जाता है
बिजली बचाओ – व्यापार बिजली दरें बिजली बचाओ – ऊर्जा योजनाओं की तुलना करें बिजली बचाओ – ऊर्जा लागत की तुलना करें

Legal | Sitemap

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *