Achievements आज का इतिहास Now Available On सत्‍यपाल मलिक को जम्‍मू कश्‍मीर का गवर्नर बनाने के पीछे क्‍या है केंद्र सरकार की मंशा आर एस ओ पी तकनीकी रिपोर्ट 23-Aug-18 10:57 Agenda Aajtak चार लोग बैठ सकते हैं. ए.बी.एल./बी.एण्‍ड डब्‍ल्‍यू./एस.जी.पी. मेक बॉयलर स्‍पेयर्स – सेन्‍टर पाइप, पी.ए. एल्‍बो, थ्रीवे स्पिलिटर टॉप जलाशय स्तर By अंकित राज FROM WEBI'm scared, both his Kidneys have failed. Can you help me?Ad: KETTO4-year-old with cancer has only 15 days to get a transplant!Ad: MilaapWatch India vs England on Sling TVAd: SLING INTERNATIONALFROM NAVBHARAT TIMESराहुल गांधी और इस लड़की की जोड़ी का सच क्या है?देखें, नेमार ने प्रैक्टिस के दौरान यूं दिखाया दमस्तन के नौ प्रकारFrom The Web CAPTCHA ईपीएफ / ग्रैच्युटी 150 यूनिट-- रु.4.40--4.90 FROM NETWORK18 नागरिक उपभोक्ता मार्गदर्शक मंच का आरोप है कि आने वाले विधानसभा चुनावों से ठीक पहले शिवराज सरकार ने चुनावी लाभ के उद्देश्य से कमजोर तबकों के वोट बैंक को साधने के लिए यह योजना शुरू की है। इनके अनुसार बकाया बिजली बिलों की माफी का सरकार का निर्णय मनमाना है। जिससे नियमित रूप से बिजली बिल भरने आम उपभोक्ताओं पर प्रत्यक्ष-परोक्ष रूप से आर्थिक बोझ बढ़ेगा। Sakshi Samachar उदय डैशबोर्ड क्विज Cookies ट्रेडिंग विंडो क्लोजर - पानी की बचत, असमतल भूमि पर भी खेती सिंचाई क्ष्त्रो का विस्तार, फव्वारे द्वारा सिंचाई के साथ ही फसलों पर कीटनाशक दवा का छिड़काव भी संभव- अनुदान योग्य केसेज में अनुदान सुविधा ऋण 10 से 15 वर्ष 11 माह की अनुग्रह अवधि की अवधि । ई-निविदाएं (सीएमएम) 1- 100          3.50 Time: 2018-08-24T06:18:25Z RELIGION Bhupin Kumar You are here आप जानते हैं, पुराने सोवियत निर्मित अपार्टमेंट घरों तारों में अर्थिंग प्रणाली से जुड़े एक अलग सुरक्षात्मक कंडक्टर नहीं था। यह माना गया था कि इसका कार्य शून्य काम करने वाले कंडक्टर द्वारा किया जाता है (तथाकथित। बिजली आपूर्ति प्रणाली   सामान्य शून्य काम करने वाले और सुरक्षात्मक कंडक्टर के साथ टीएन-सी)। के बाद से सभी प्रकाशनों सुरक्षात्मक कंडक्टर सुरक्षा उपकरणों में सितम्बर निषेध सेटिंग है, 2-ध्रुव RCD, एक साथ फाड़ और चरण और शून्य, भी निषेध के अंतर्गत आते हैं। यहां तक ​​कि पिछले 7 वास्तविक एसएई की धारा। 7.1.80 में संस्करण तमिलनाडु-सी प्रणाली के नेटवर्क में RCD की स्थापना की अमान्यता की पुष्टि की। तथ्य यह है कि उनके ऑपरेशन के दौरान बिजली के झटके के मामले दर्ज किए गए थे। नदी को यूं भी मारा जाता है ऊर्जा दक्षता तथा पुनर्नवीकरणीय ऊर्जा प्रभाग (ईआरईडी) Polska - Polski प्रदेश में बिजली की दरों की बढ़ोतरी के कयास काफी दिनों से लगाए जा हे थे। नई कीमतों के मुताबिक पहली 100 यूनिटों के लिए 3 रुपये और इसके बाद 4.50 रुपये प्रति यूनिट के हिसाब से बिल आएगा। उत्तर प्रदेश विद्युत नियामक आयोग ने वर्ष 2017-18 के लिए ग्रामीण अनमीटर्ड कनेक्शन का मासिक बिल 180 से बढ़ाकर 31 मार्च 2018 तक 300 रुपये और उसके बाद 400 रुपये किया गया है।  विद्युत सभी के लिए इन सब के बावजूद देश को एक ऊर्जा तंत्र की आवश्यकता है, जो निष्पक्षता, दक्षता और स्थिरता के सिद्धांत पर काम करने वाला हो। इस योजना के तहत 16,320 करोड़ रुपए गरीबों के जीवन में आमूलचूल परिवर्तन लाने में खर्च किये जाएंगे। जिस गाँव में अब तक बिजली नहीं पहुँची है, वहाँ तय समय से पहले दिसंबर 2017 तक बिजली पहुँचा दी जाएगी। Reply स्वागत हे!अकाउंट के लिए रजिस्टर करें अध्यक्ष का अभिभाषण यूपी सरकार की सेवा में लगे 3 पायलटों ने दिया इस्तीफा, 'सैलरी' बढ़ाने की मांग Stage 6 यूपी: बिजली दरों में हुई बढ़ोतरी, शहरी और ग्रामीण दोनों उपभोक्ताओं को झटका बड़ी खबर: विनोद तिवारी एक विषैला सांप जिसको कितना भी दूध... Highway Channel आज का राशिफल Copyright @ 2016 Drishti The Vision Foundation, India. All rights reserved संस्थागत आत्मनिर्भर महिलाओं के लिए होगा सम्मान समारोह Comment हर्षद मेहता : बी.एस.ई. के दलालों में सरताज Colombia - Español मुख्यमंत्री शामिल हुए नक्सल पीडि़त ग्राम मद्देड़ के समाधान शिविर में उत्पादन क्षमता टिहरी 5.95             4.50 बिहार सौभाग्य डैशबोर्ड उन्होंने बताया कि स्वैच्छिक भार वृद्धि घोषणा के तहत कृषि उपभोक्ता एक वर्ष से अधिक अवधि के कृषि कनेक्शनों कोे बिना पैनल्टी के मात्र 30 रुपए प्रति हार्स पावर धरोहर राशि (15 रुपए प्रति हार्स पावर प्रति माह की दर से दो माह के लिए) जमा करवा कर भार को नियमित करवा सकते है और जिन उपभोक्ताओं के कनेक्शन को एक वर्ष नहीं हुआ है उनको बढ़े हुए भार पर धरोहर राशि के अतिरिक्त कृषि नीति के अनुसार नियमितिकरण शुल्क भी जमा कराना होगा। तटस्थ मोड के आधार पर, दो सबसे आम प्रकार के विद्युत नेटवर्क प्रतिष्ठित हैं: ऐमजॉन इंडिया के चीफ ने कहा, 6 बजे के बाद न लें ई-मेल की टेंश... टैक्‍स Best Banks for Non Resident Indians (NRIs) पश्चिम बंगाल में दोबारा नहीं होंगे पंचायत चुनावः सुप्रीम कोर्ट Kerala floods: Chief Minister Pinarayi Vijayan faces protests from flood survivors at relief camps दुनिया जनरेटर एन.आई.सी. परीक्षा परिणाम वेबसाइट गोपनीयता लखनऊ आगामी वित्तीय वर्ष 2018-19 की नई बिजली दर का निर्णय बुधवार को विनियामक आयोग के अध्यक्ष एसके नेगी, सदस्य राजीव अमित व आरके चौधरी ने संयुक्त रूप से सुनाया। अध्यक्ष ने कहा कि साउथ बिहार पावर डिस्ट्रीब्यूशन कंपनी लिमिटेड को 9,603 करोड़ और नॉर्थ बिहार कंपनी को 7207.62 करोड़ रुपए राजस्व की जरूरत का प्रस्ताव दिया था। समीक्षा के बाद आयोग ने साउथ बिहार के लिए 9228.64 करोड़ और नॉर्थ बिहार के लिए 7106 करोड़ की जरूरत को मंजूर किया है। दोनों कंपनियों ने 2018-19 के लिए कुल 5121.87 करोड़ घाटा का प्रस्ताव दिया था, लेकिन जांच में मात्र 747.44 करोड़ ही पाया गया। कंपनी ने राजस्व नुकसान को कम करने के लिए 44 फीसदी बिजली दर वृद्धि का प्रस्ताव दिया, जिसे आयोग ने बड़े उद्योग को छोड़कर बाकी श्रेणी के उपभोक्ताओं को मात्र पांच फीसदी वृद्धि का निर्णय लिया है।  सेब (Apple) Our Divisions reduce rates india vs england test series: 3rd टेस्ट जीतने के बाद कप्तान विराट ने बदला अपना लुक, फैन्स ने किए मजेदार कमेंट्स HomeBIHARआपका प्रदेशगुड न्यूज : बिहार में बिजली कंपनी निकालने जा रही है 1200 पदों पर बहाली हिन्दुस्तान ब्यूरो ,पटना अब कंगना रनौत से 'पंगा' लेना पड़ेगा महंगा, जानिए क्या है माजरा Equity: Large & MidCap101620240.00%2.41%75.76 अंतरराष्ट्रीय खबरें वृषभ टंडन ने ली राज्यपाल पद की शपथ होम » वीडियो 18-Aug-18 04:18 For the past 20 years an Innocent prisoner, Leon Benson has been erroneously serving a 60 yr sentence for a shooting murder he absolutely did not commit.      His wrongful conviction &… Read more बांदा 28 मार्च 2018 - कोटा में दिनदहाड़े फायरिंग कर दहशत फैलाने वाले दो बदमाश चढ़े पुलिस के हत्थेकोटा। शहर के रामपुरा इलाके में अफ़ग़ानिस्तान ने आयरलैंड को 81 रनों से हराया 2017-18 30740 मिलियन यूनिट Next articleशहरी क्षेत्र के प्रत्येक पात्र हितग्राही को आवासीय पट्टा प्रदान करें – शुक्ल और पढ़ें-कंज्यूमर्स को झटका, पंजाब में 3 साल बाद बिजली की दर में बढ़ोतरी Nalanda August 23, 2018 उदय छत्तीसगढ़ में आदिवासी ,दलित ,किसान ,अल्पसंख्यक ,महिलाओं के संवेधानिक अधिकार के लिए प्रतिबद्ध लोगो का साझा मंच , यह सिर्फ समाचार नहीं विचारो का संकलन है ,हमारी कोशिस है की छत्तीसगढ़ में पीड़ितों के संघर्ष की आवाज़ आप तक पहुंच सके और यदि आपकी रूचि संघर्ष से जुड़ने और इस बाबत ज्यादा जानकारी प्राप्त करने में है तो यह मंच आपके लिये है . म्युचुअल फंड खोलें मंत्रिमंडल ने राष्ट्रीय आपदा मोचन बल की चार अतिरिक्त बटालियन बनाने को मंज़ूरी दीAug 10, 2018 बिजनेस बिजली - यहां अधिक समाधान खोजें बिजनेस बिजली - ह्यूस्टन में सस्ता बिजली कंपनियों बिजनेस बिजली - इलेक्ट्रिक प्रदाता खोजें
Legal | Sitemap